विद्युत उपकेन्द्र बना तालाब,बस नाव चलने की है देर
विद्युत उपकेन्द्र बना तालाब,बस नाव चलने की है देर


27 Aug 2021 |  118



रिपोर्ट-शिव शंकर त्रिपाठी 



प्रतापगढ़।बिजली विभाग की लापरवाहियां तो जग जाहिर हैं।जिससे उपभोक्ताओं को अक्सर समस्या का सामना करना पड़ता है।ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा सोशल मीडिया पर लगातार अपने विभाग की व्यवस्थाओं में सुधार के लिए निर्देशित करते रहते हैं। लेकिन विभाग के उदाहरण बन चुके अधिकारियों व कर्मचारियों के कान पर जूं तक नहीं रेंगती है और न ही उर्जा मंत्री का निर्देश इनके लिए कोई मायने रखता है।

तालो में नैनीताल बाकी सब तलैया इस गाने को जेठवारा विद्युत उपकेन्द्र झूठा साबित कर रहा है।बल्कि तालों में ताल जेठवारा विद्युत उपकेन्द्र ये साबित हो रहा है।मामूली सी बारिश से पूरे परिसर में जल भराव हो जाता है या यू कहा जाए की तालाब बन जाता है।जिसके कारण यहां आने वाले उप भोक्ताओं को भरे पानी से होकर गुजरना पड़ता है।परिसर में करंट उतरने का भी डर बना रहता है।ये जल भराव कई दिनों से हुआ है।



उपकेन्द्र पर हुए जल भराव को लेकर जब मीडियाकर्मियों ने उपखंड अधिकारी गौरव कुमार से बात करने की कोशिश की तो उपखंड अधिकारी ने कहा कि उनके ऊपर विभाग के बड़े अधिकारियों का बहुत दबाव रहता है।इस मामले पर हम कोई आधिकारिक बयान नहीं दे सकते हैं।उपखंड अधिकारी ने बस एक घिसा-पिटा जवाब दिया कि इस सम्बंध में अपने बड़े अधिकारियों को सालों पहले पत्र लिखकर समस्या से अवगत कराया जा चुका है लेकिन समस्या से निजात कब मिलेगी इस बारे में कुछ कह नहीं सकते।

स्थानीय लोगों का कहना है कि यहां उपकेन्द्र पर काम करने वाले आधिकारी व कर्मचारी रात में मस्त रहकर मटरगस्ती करते हैं और जब उनके पास फ़ोन किया जाता है तो या तो फ़ोन उठता नहीं है या फिर सही से बात नहीं करते हैं।

इस बारे में जब अधिशाषी अभियंता कुंडा उमाकांत कुमार से बात करने के लिए फोन किया गया तो उनका फ़ोन नहीं उठा।



 विभाग की इस लापरवाही के कारण  उपभोक्ताओं में खासी नाराजगी व मायूसी देखी जा सकती है।

ऐसे में सवाल उठता है कि क्या विद्युत विभाग इस समस्या का कोई जल्द समाधान करता है या फिर किसी बड़ी अनहोनी के इंतज़ार में कान में तेल डालकर बैठा रहेगा।



More news