दुनिया के बोद्ध स्थल हमसे जुड़े,यूपी में बढ़ी एयर कनेक्टिविटी:पीएम मोदी
दुनिया के बौद्ध स्थल हमसे जुड़े,यूपी में बढ़ी एयर कनेक्टिविटी:पीएम मोदी


20 Oct 2021 |  70



 धनंजय सिंह स्वराज सवेरा एडिटर इन चीफ यूपी 



कुशीनगर।उत्तर प्रदेश में भगवान बुद्ध की नगरी कुशीनगर के लिए बुधवार का दिन महत्वपूर्ण रहा।प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जिले को प्रदेश के तीसरे अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे के साथ करोड़ों की परियोजनाओं की सौगात दी है।अपने समय पर पहुंचने में विख्यात पीएम मोदी जिले में आयोजित कार्यक्रम में शामिल होने पहुंचे।कुशीनगर अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे के उद्घाटन के साथ जिले का पर्यटन के हिसाब से चौतरफा विकास होना अब तय हो गया है।



पीएम मोदी ने कहा कि इस हवाई अड्डे पूरी दुनिया में स्थित बौद्ध स्थलों को जोड़ने की कोशिश है।अब भगवान के परिनिर्वाण स्थल से पूरी दुनिया को जोड़ने का काम आसान हो गया है।इससे छोटे व्यापारियों और पर्यटकों को काफी लाभ होगा।



पीएम मोदी ने कहा कि यूपी में हवाई यात्रा की कनेक्टिविटी बढ़ने वाली है। उड़ान योजना के तहत बीते कुछ सालों में 900 से अधिक नए रूट्स को स्वीकृति दी जा चुकी है। इनमें से 350 से अधिक जगहों पर हवाई सेवा शुरु भी हो चुकी है। 50 से अधिक नए एयरपोर्ट या जो पहले सेवा में नहीं थे, उनको चालू किया जा चुका है।



पीएम मोदी ने कहा कि भारत विश्वभर के बौद्ध समाज की श्रद्धा के आस्था का केंद्र है। आज कुशीनगर इंटरनेशनल एयरपोर्ट की ये सुविधा, उनकी श्रद्धा को अर्पित पुष्पांजलि है। भगवान बुद्ध के ज्ञान से लेकर महापरिनिर्वाण तक की संपूर्ण यात्रा का साक्षी ये क्षेत्र आज सीधे दुनिया से जुड़ गया है।



कार्यक्रम की शुरुआत में केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि आज कुशीनगर का दिन बहुत खास है।भारत हमेशा गौतमबुद्ध के बताये रास्तों का अनुसरण करता है जबकि दूसरे देश युद्ध के लिये तैयार रहते हैं। सिंधिया कहा कि प्रदेश का नौवां हवाई अड्डा यहां बनाया गया है।आने वाले समय में प्रदेश में 17 हवाई अड्डों का निर्माण किया जायेगा।



उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस अवसर पर कहा कि पूर्वी उत्तर प्रदेश आज़ादी के बाद से ही उपेक्षित था,लेकिन अब पीएम मोदी के नेतृत्व में इस क्षेत्र का चौतरफा विकास हो रहा है।



सीएम योगी ने कहा कि महात्मा बुद्ध का संदेश पूरी दुनिया में स्वीकार किया जाता है।अब उनकी स्थली कुशीनगर से अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट की शुरुआत की जा रही है और आज के दिन को पूर्वी उत्तर प्रदेश के लिए विकास की उड़ान का दिन कहा। 26 नवंबर से जनपद से नई दिल्ली के लिए सीधी फ्लाइट की सुविधा शुरू हो जाएगी।



इस अवसर पर राज्यपाल आनंदीबेन पटेल, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सहित कुल 7 मंत्री भारत सरकार और 2 मंत्री उत्तर प्रदेश सरकार से कार्यक्रम में शामिल रहे। केंद्रीय मंत्री किरण रिजिजू, ज्योतिरादित्य सिंधिया, संस्कृति, पर्यटन तथा पुरवोत्तर क्षेत्र विकास मंत्री जी. किशन रेड्डी, राज्यमंत्री संसदीय कार्य तथा संस्कृतिक अर्जुन राम मेघवाल, राज्यमंत्री विदेश तथा संस्कृति मीनाक्षी लेखी, राज्यमंत्री रक्षा अजय भट्ट, सूर्य प्रताप शाही मंत्री कृषि शिक्षा एवं कृषि अनुसंधान उत्तर प्रदेश सरकार, स्वामी प्रसाद मौर्य मंत्री श्रम एवं सेवायोजन तथा समन्यव उत्तर प्रदेश सरकार, स्वतंत्र देव सिंह सदस्य विधान परिषद उत्तर प्रदेश डॉ रमापति राम त्रिपाठी सांसद देवरिया एवं विजय दुबे सांसद कुशीनगर कार्यक्रम में शामिल रहे।



आपको बता दें कि कुशीनगर हवाई अड्डे को अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा बनाया गया है।इस हवाई अड्डे पर एयरबस जैसा बड़ा जहाज भी उतर सकता है।दक्षिण पूर्व एशिया के देश जैसे थाईलैंड, मलेशिया, वियतनाम, सिंगापुर, श्रीलंका और आसपास के बहुत से देशों से लोग बुद्धिस्ट सर्किट घूमने के लिए आना चाहते थे, ऐसे पर्यटकों के लिए कुशीनगर हवाई अड्डा बहुत मुफ़ीद साबित होगा।इस हवाई अड्डे से दुनिया भर के लोगों को बुद्धिस्ट सर्किट घूमने में सहूलियत होगी।इस अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे से श्रावस्ती, लुम्बिनी, कपिलवस्तु, सारनाथ और गया को भी फायदा मिलेगा।लोग बुद्ध की भूमि के दर्शन के लिए बड़े पैमाने पर आएंगे।कार्यक्रम में श्रीलंका के राष्ट्रपति के साथ ही 115 सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल आया हुआ है।इसमें बौद्ध भिक्षु भी शिरकत किए।



More news