चुनावी साल में बिजली बिल माफ करने की तैयारी,योगी सरकार लेकर आई योजना
चुनावी साल में बिजली बिल माफ करने की तैयारी,योगी सरकार लेकर आई योजना


21 Oct 2021 |  47



 ब्यूरो धीरज कुमार द्विवेदी 



लखनऊ।उत्तर प्रदेश पावर कारपोरेशन के लिए बकाया बिजली का बिल परेशानी का सबब बन गया है।पावर कारपोरेशन ने अब किसानों, छोटे घरेलू एवं कॉमर्शियल उपभोक्ताओं को 100 फीसदी अधिभार से छूट देने का निर्णय लेते हुए एकमुश्त समाधान योजना का ऐलान किया है।



सूबे के मुखिया योगी आदित्यनाथ से हरी झंडी मिलने के बाद बिजली उपभोक्ताओं की सुविधा के लिए एकमुश्त समाधान योजना का ऐलान किया गया है। 21 अक्टूबर से 30 नवंबर तक बिजली का बिल न जमा कर पाने वाले उपभोक्ता इस छूट का लाभ उठा सकते हैं। ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा ने इस योजना का ऐलान किया है। **ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा ने बताया कि इस योजना में छोटे उपभोक्ताओं तथा किसानों का विशेष ध्यान रखा गया है।सरचार्ज से 100 प्रतिशत की छूट दी गई है। योजना के तहत घरेलू विद्युत पंखा (एलएमवी-1 ) एवं कॉमर्शियल उपभोक्ता (एलएमवी-2) के दो किलोवाट भार तक के छोटे उपभोक्ता तथा नलकूल (एलएमवी 5) वाले उपभोक्ता को राहत देने का फैसला किया गया है और साथ ही दो किलोवाट तक के घरेलू छोटे उपभोक्ता को बकाया राशि में अधिकतम छह किश्तों में जमा करने का भी विकल्प रखा गया है।



ऊर्जा मंत्री ने बताया कि उपभोक्ताओं को योजना का लाभ लेने के लिए सम्बंधित अधिशासी अभियंता एवं एसडीओ कार्यालय तथा ग्रामीण क्षेत्रों में सीएससी सेंटर्स पर ऑनलाइन बिजली बिल जमा कराना होगा।उपभोक्ता चाहे तो स्वयं भी अपने क्षेत्र के पावर हाउस पर योजना का लाभ प्राप्त कर सकता है।



पावर कारपोरेशन ने बिजली का बिल जमा न कर पाने के बाद कनेक्शन कटने की पीड़ा झेल रहे उपभोक्ताओं से अपील की है कि वो इस योजना का लाभ लेकर बिजली कनेक्शन की सुविधा को पुनः प्राप्त कर सकते हैं।



उत्तर प्रदेश पावर कारपोरेशन के अध्यक्ष एम. देवराज ने इस संबंध में विद्युत वितरण निगम के अधिकारियों को निर्देशित किया है कि वे योजना को सफल बनाने के लिए व्यापक स्तर पर अभियान चलाएं ताकि ज्यादा से ज्यादा उपभोक्ताओं को इसका लाभ मिल सके।



More news