स्कूली बच्चों से भरी बस तालाब में पलटी,चीख पुकार सुनकर बचाव के लिए दौड़े ग्रामीण
स्कूली बच्चों से भरी बस तालाब में पलटी, चीख पुकार सुनकर बचाव के लिए दौड़े ग्रामीण


22 Oct 2021 |  36



रिपोर्ट-अंकुर शर्मा 



 आगरा।शुक्रवार को सड़क पर तालाब का पानी भर जाने से स्कूली बच्चों से भरी बस अनियंत्रित होकर तालाब में पलट गयी।गनीमत रही कि मौके पर मौजूद ग्रामीणों और लोगों ने तत्काल रेस्क्यू करते हुए मासूमों को बाहर निकाल लिया।ग्रामीणों की वजह से बड़ा हादसा होने से टल गया है।हादसे में तीन बच्चों को चोटें आईं हैं। वहीं स्थानीय ग्रामीण इस घटना के लिए जनप्रतिनिधियों को जिम्मेदार ठहरा रहे हैं।



प्राप्त जानकारी के अनुसार पिनाहट के शांति निकेतन स्कूल की बस बच्चों को लेने के लिए नया बांस गांव जा रही थी।तालाब का पानी बाहर सड़क पर बह रहा है जिससे सड़क नजर नही दिखती है और किनारे से ही तालाब बना हुआ है।भीषण जलभराव के बीच जैसे ही बस गुजरी तो बस अनियंत्रित होकर तालाब में पलट गयी।लगभग 40 बच्चों से भरी बस पलटने से चीखपुकार मच गयी।



बस पलटने के दौरान वहां आस पास खेतों में काफी ग्रामीण मौजूद थे। हादसा होने के समय बस में मौजूद 40 बच्चे चीख पुकार मचाने लगे। बच्चों की चीख पुकार सुनते ही ग्रामीण तालाब की तरफ दौर पड़े। ग्रामीण बस का शीशा तोड़ कर बच्चों को बाहर निकाला।ग्रामीणों ने बच्चों को उनके परिजनों के सपुर्द कर दिया। सूचना पर थाना पुलिस मौके पर आई पर तब तक ग्रामीणों ने सभी बच्चों को सकुशल बाहर निकाल लिया था।



स्कूली बच्चों की जान बचाने के बाद ग्रामीण जनप्रतिनिधियों को कोसते नजर आए।ग्रामीणों का कहना था कि अगर हादसा हो जाता तो जनप्रतिनिधि खुश होते,वो सिर्फ वोट मांगने आते हैं।



ग्रामीणों का कहना है कई बार क्षेत्रीय प्रतिनिधियों एवं जिला एवं तहसील प्रशासन से सड़क बनवाने एवं तालाब की सफाई शिकायत की गई लेकिन आज तक सड़क सुधार के लिए कोई भी ठोस कदम नहीं उठाया गया है। इसी वजह से मुख्य सड़क से गुजरने वाले लोगों एवं वाहनों के साथ हादसे हो रहे हैं।ग्रामीणों ने तत्काल सड़क पर ऊंची पुलिया बनवाने की मांग की है।



More news