बाल विकास परियोजना, अधिकारियों, मुख्य सेविकाओं के प्रशिक्षण एवं कार्यशाला का हुआ आयोजन
बाल विकास परियोजना,अधिकारियों,मुख्य सेविकाओं के प्रशिक्षण एवं कार्यशाला का हुआ आयोजन


06 Dec 2021 |  125



ब्यूरो देवी शरण मिश्रा

प्रतापगढ़। सोमवार को क्षेत्रीय ग्राम्य विकास संस्थान अफीम कोठी के सभागार में सैम,मैम,स्टटिंग,वेस्टिंग बच्चों,गम्भीर अल्प वजन बच्चों के चिन्हांकन, सामुदायिक एवं प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र पर उनका चिकित्कीय उपचार, एनआरसी में बच्चों के भर्ती कराये जाने, एनआरसी में सुविधाओं एवं उपचार,पोषण ट्रेकर पर फीडिंग,अपलोडिंग, पोषण वाटिका आदि महत्वपूर्ण सामयिक विषयों प्रशिक्षण एवं कार्यशाला का आयोजन किया गया।

इस अवसर पर जिलाधिकारी डा0 नितिन बंसल ने निर्देशित किया कि आंगनबाड़ी कार्यकत्री ग्राम पंचायतों में घर-घर सर्वे कर अतिकुपोषित बच्चों एवं गम्भीर अल्प वजन के बच्चों का चिन्हित कर सूची बना लें। ऐसे बच्चों को पहले सम्बन्धित सामुदायिक एवं प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र पर उनका इलाज करायें अगर गम्भीर बीमारी से ग्रस्त है तो उनको जिला चिकित्सालय में स्थित एनआरसी प्रभारी से सम्पर्क कर उन्हें भर्ती कराया जायें ताकि उनका बेहतर इलाज हो सके।
मुख्य विकास अधिकारी ईशा प्रिया ने भी बाल विकास परियोजना अधिकारियों एवं मुख्य सेविकाओं को महत्वपूर्ण जानकारी दी। उन्होंने कहा कि सभी अपने-अपने कार्यो एवं दायित्वों का ईमानदारी से निर्वहन करें।मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 अरविन्द कुमार श्रीवास्तव, जिला कार्यक्रम अधिकारी पवन कुमार, प्राचार्य अफीम कोठी शिव प्रकाश सहित सम्बन्धित अधिकारी व बाल विकास परियोजना अधिकारी एवं मुख्य सेविका उपस्थित रही।


More news