पीएम मोदी ने यूपी चुनाव से पहले साधा 50%को, बताया भाजपा की असली ताकत
पीएम मोदी ने यूपी चुनाव से पहले साधा 50% को,बताया भाजपा की असली ताकत


18 Jan 2022 |  23



ब्यूरो प्रेम शंकर मिश्र

वाराणसी।उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनाव में 80:20 और 85:15 की जमकर बातें हो रही है।कोई धार्मिक आधार पर मतदाताओं को साधने में जुटा हुआ है तो कोई जाति को अपना आधार बनाकर राह आसान करने में जुटा हुआ है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज मंगलवार अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी के बूथ कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए न तो 80:20 की बात की और न ही 85-15 का कोई जिकर किया। सिर्फ उत्तर प्रदेश की आधी आबादी को साधने का प्रयास किया। उन्होंने महिलाओं को पार्टी की असली ताकत बताते हुए कहा कि उनकी सरकार जो फैसले ले रही है वह महिलाओं के वोट से ही संभव हुआ है।

पीएम मोदी ने कार्यकर्ताओं से बात करते हुए उज्ज्वला योजना का भी जिकर किया और महिला से यह भी पूछा कि वह खुश है या नहीं। उन्होंने ने कहा कि अब महिलाओं को न तो रसोई की धुएं से जूझना पड़ता है न केरोसिन के लिए लाइन लगानी पड़ती है। ये सब आपकी वजह से संभव हुआ है।

पीएम मोदी भोजपुरी भाषा में बोलते हुए कहा कि आप जइसन बहिन के आशीर्वाद हमार असली शक्ति हउअे। मातृशक्ति प्रसन्न हौ ना, भाजपा को 2014 के बाद जिस तरह उत्तर प्रदेश में 2017, 2019 में भी सफलता मिली उसके पीछे महिला मतदाता की अहम हिस्सेदारी थी।

पीएम मोदी ने भाजपा कार्यकर्ताओं के साथ ऑडियो संवाद में विकास के प्रति भाजपा की प्रतिबद्धता दोहराई। उन्होंने कार्यकर्ताओं के साथ बातचीत करते हुए काशी विश्वनाथ कॉरिडोर पुनरुद्धार, महिला सशक्तिकरण, इंफ्रास्ट्रक्चर और हेल्थकेयर डेवलपमेंट सहित कई विषयों पर चर्चा की और एक कार्यकर्ता से अधिक से अधिक महिलाओं को स्वयं सहायता समूहों से जोड़ने और उन्हें डिजिटल भुगतान के लिए प्रेरित करने लिए कहा।

सियासी राजनीतिक पंडितों का मानना है कि केंद्रीय योजना उज्ज्वला योजना,जनधन बैंक खाते और प्रधानमंत्री आवास योजनाओं का महिलाओं को काफी लाभ मिला है।महिलाओं ने इन योजनाओं की वजह से 2017 और 2019 के चुनाव में भाजपा को खुलकर वोटिंग की। महिलाओं ने जाति और धर्म के समीकरण की धज्जियां उड़ा डाली।भाजपा को तीन तलाक के खिलाफ बनाए गए कानून की वजह से कुछ हद तक मुस्लिम महिलाओं के भी वोट मिले है।आने वाले दिनों में पीएम मोदी की अगुआई में भाजपा महिलाओं के लिए किए गए काम गिनाकर 50 फीसदी वोटर को एक बार फिर अपने पाले में रखने की कोशिश करती हुई नजर आयेगी।


More news