काशी विश्वनाथ पर विवादित बयान देने वाले डॉ.रविकांत को छात्र ने मारा थप्पड़
काशी विश्‍वनाथ पर विवादित बयान देने वाले डॉ. रविकांत को छात्र ने मारा थप्‍पड़


18 May 2022 |  54



रिपोर्ट-अनुज सिंह

लखनऊ।काशी विश्वनाथ मंदिर पर विवादित बयान जारी करने वाले डॉ. रविकांत पाण्डेय को बुधवार को छात्रों ने पीट दिया।उन्‍हें विश्वविद्यालय प्रॉक्टर कार्यालय के बाहर पीटा गया।मारपीट का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया है।इस दौरान डॉ. रविकांत के साथ मौजूद लोगों ने भी छात्र को पीटा।फिलहाल इस घटना में कुछ छात्रों के नाम सामने आ रहे हैं,लेकिन अभी तक किसी की भी पुष्टि नहीं हो पाई है।

डॉ. रविकांत पाण्डेय ने बीते दिनों काशी विश्‍वनाथ मंद‍िर और साधु संतों को लेकर विवादित बयान जारी किया था। इस बयान को लेकर लगातार विवाद बढ़ता चला जा रहा था। छात्रों की तरफ से रविकांत के खिलाफ एफआईआर भी दर्ज कराई गई थी।उसके बाद रविकांत के पक्ष की तरफ से विरोध शुरू कर दिया गया।मंगलवार को रविकांत के समर्थन में विरोध प्रदर्शन भी हुआ।वहीं, रविकांत की तरफ से मानवाधिकार आयोग से लेकर पुलिस मुख्यालय तक में ई-मेल के माध्यम से शिकायती पत्र भेजा गया।

जानकारों की मानें तो डॉ. रविकांत पाण्डेय के प्रकरण और उसको लेकर हो रही राजनीति से छात्रों में काफी गुस्सा था।रविकांत बुधवार को परिसर में प्रॉक्टर कार्यालय से गुजर रहे थे जहां, छात्रों ने उनके साथ मारपीट की।छात्रों की तरफ से उनके खिलाफ लगातार कार्रवाई की मांग की जा रही है।इस घटना के बाद विश्वविद्यालय में सुरक्षा बढ़ा दी गई है।

छात्र का कहना है कि वह प्रॉक्टर कार्यालय के सामने से निकल रहा था। उसने डॉ.रविकांत के पैर छुए।बीते दिनों काशी विश्वनाथ मंदिर विवाद में प्रदर्शन करने के चलते डॉ. रविकांत नाराज थे।रविकांत ने मुझे भद्दी भद्दी गाली देने लगे और मेरा गिरेबान पकड़ने लगे।तभी उनके साथ मौजूद एक अन्य व्यक्ति ने मेरे ऊपर पानी की बोतल से हमला किया। मजबूरन अपने बचाव में हाथापाई करनी पड़ी।

मिली जानकारी के अनुसार समाजवादी छात्रसभा की लखनऊ विश्वविद्यालय इकाई के अध्यक्ष कार्तिक पाण्डेय को पुलिस ने हिरासत में ले लिया है और विश्वविद्यालय की पुलिस चौकी पर बैठाया है।समाजवादी पार्टी की ओर से कुछ देर बाद ही यह स्‍पष्‍ट कर दिया गया कि छात्र कार्तिक पाण्डेय का उनकी पार्टी से कोई लेना-देना नहीं है।


More news