अग्निपथ विरोध:भारत बंद की खबरों के बीच छावनी में तब्दली हुई काशी,चप्पे-चप्पे पर पुलिस
अग्निपथ विरोध:भारत बंद की खबरों के बीच छावनी में तब्दली हुई काशी,चप्पे-चप्पे पर पुलिस

20 Jun 2022 |  34



ब्यूरो प्रेम शंकर मिश्र


वाराणसी।केंद्र सरकार की सेना भर्ती के लिए नई योजना अग्निपथ के विरोध में सोमवार को सोशल मीडिया पर भारत बंद की अफवाह को देखते हुए पुलिस अलर्ट मोड पर है। आध्यात्मिक नगरी काशी छावनी में तब्दील हो गई है।रेलवे स्टेशन से लेकर हाईवे तक पुलिस के साथ पीएसी और आरएएफ के जवान मुस्तैद है।चप्पे-चप्पे पर पुलिस है।

आपको बताते चलें कि अग्निपथ योजना का पूरे उत्तर भारत में कड़ा विरोध हो रहा है।बीते 17 जून को उपद्रवियों ने काशी में घंटो तक उपद्रव किया था।कैंट रेलवे स्टेशन,कैंट रोडवेज बस स्टैंड और आसपास के इलाकों में जमकर तोड़फोड़ की गई थी। इसके सोशल मीडिया पर 20 जून को भारत बंद की ख़बरें वायरल होने लगी।भारत बंद होने की खबर वायरल होने के बाद वाराणसी कमिश्नरेट पुलिस पूरी तरह से अलर्ट मोड में आ गई।किसी भी प्रकार की अप्रिय घटना न घटे इसके लिए काशी को छावनी में तब्दील कर दिया गया है।हाईवे पर आने जाने वाली बसों पर भी सचल दस्ते की नजरे जमी हुई हैं।एहतियात के तौर पर काशी के 8 सैनिक कोचिंग संस्थानों को भी नोटिस दिया गया है और साथ ही ग्रामीण के चोलापुर, चौबेपुर ,बड़ागांव जैसे ग्रामीण थानों में दर्जनों संदिग्ध लोगों को पहचान कर उनको रविवार रात से ही थानों पर बैठाया गया है।

आपको बता दें कि बीते 17 जून को काशी में भारी उपद्रव हुआ था।उपद्रव के बाद कुल 9 एफआईआर दर्ज हुई थी और पुलिस ने 27 को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।पुलिस 57 अन्य को चिन्हित कर उनकी गिरफ्तारी के लिए प्रयास कर रही है।जिला प्रशासन ने बताया कि करीब 12 लाख रुपए से अधिक की सार्वजनिक संपत्ति का नुकसान पहुंचाया गया था।इन सभी संपत्तियों की भरपाई गिरफ्तार हुए लोगों से की जाएगी।


More news