आईजी की फटकार से दुकान में घुसकर तोड़ फोड़ व मारपीट के मामले में पुलिस ने 11 दिन बाद दर्ज की रिपोर्ट
आईजी की फटकार से दुकान में घुसकर तोड़फोड़ व मारपीट के मामले में पुलिस ने 11 दिन बाद दर्ज की रिपोर्ट


13 Feb 2021 |  432



ब्यूरो सुनील कुमार पाण्डेय 



 उत्तर प्रदेश के अयोध्या जिले की तारुन पुलिस इस समय आरोपियों पर बहुत मेहरबानी दिखा रही है। इतनी मेहरबान है कि बिना उच्चाधिकारियों के हस्तक्षेप से कोई न्याय की उम्मीद ही नही कर सकता।ऐसा ही एक मामला स्थानीय बाजार निवासी किराना व्यवसायी के साथ हुआ,पुलिस महानिरीक्षक के कड़ी फटकार के 11 दिन बाद स्थानीय पुलिस ने चार लोगों के खिलाफ दुकान में घुसकर तोड़फोड़ विरोध करने पर पिटाई सहित विभिन्न धाराओं में मुकदमा दर्ज किया।मामला स्थानीय तारुन बाजार का है।दिए गए तहरीर में पीड़ित जयराम गुप्ता ने आरोप लगाया कि बाज़ार में आबादी की जमींन है जिस पर नीम आदि के पेड़ लगे हुए है।उस जमीन को कब्जा करने लिए 30 जनवरी को लक्ष्मी सिंह,राज सिंह,अंकित सिंह, विवेक सिंह सहित परिवार के लोंगों ने प्रार्थी की दुकान पर पहुंच कर गाली गलौज करते हुए लाठी डंडे से पीटने लगे।शोर मचाते हुए दुकान में भागा तो दुकान में घुसकर मारा पीटा और दुकान में पचासों हजार के सामान को भी छति पहुंचायी।पत्नी व बच्चे जब बचाने के लिए दौड़े तो उन्हें भी मारा पीटा और जान से मारने की धमकी देते हुए भाग गए ।मामले की लिखित तहरीर लेकर पीड़ित जब थाने पर गया तो पुलिस ने हवालात में बंद करने की घमकी देकर उसे भगा दिया।जिसकी शिकायत उसने पुलिस महानिरीक्षक संजीव गुप्त अयोध्या मण्डल से किया। पुलिस उप महानिरीक्षक की फटकार के बाद तारुन पुलिस ने विपक्षी के ऊपर मुकदमा दर्ज किया है ।