विधानसभा चुनाव से पहले हो सकती है विधान परिषद की वोटिंग, रिपोर्ट तैयार,मुहर का है इंतजार
विधानसभा चुनाव से पहले हो सकती है विधान परिषद की वोटिंग,रिपोर्ट तैयार,मुहर का है इंतज़ार


03 Dec 2021 |  53



ब्यूरो धीरज कुमार द्विवेदी

लखनऊ। विधान परिषद में स्थानीय निकाय कोटे की 36 सीटों पर चुनाव जनवरी में हो सकता हैं। 7 मार्च 2022 को सभी 36 सीटों का कार्यकाल खत्म हो रहा है।संभव है कि चुनाव आयोग आगामी विधानसभा चुनाव के पहले ही इसका निर्वाचन करा दें।
आधिकारिक सूत्रों के मुताबिक इस संबंध में निकाय सदस्यों की मतदाता सूची तैयार कर राज्य की योगी सरकार ने चुनाव आयोग के पास अपनी रिपोर्ट भेजी है।

आपको बता दें कि विधान परिषद की इन सीटों के नतीजे ही उच्च सदन में किसी भी पार्टी को वर्चस्व दिलाते हैं। निर्वाचन आयोग की प्रदेश कार्यकारिणी के आधिकारिक सूत्र के अनुसार संविधान के तहत विधानसभा की सीटों पर उनके खाली होने की तारीख से 6 महीने पहले चुनाव की प्रक्रिया शुरू की जा सकती है। यही कारण है कि विधान परिषद की इन सीटों पर चुनाव की प्रक्रिया इनके खाली होने की तारीख से तीन महीने पहले ही शुरू की जा सकती है। इन स्थितियों में संभव है कि 8 से 15 दिसंबर के बीच ही इसकी अधिसूचना जारी कर दी जाए।अगर चुनाव जनवरी में नहीं हुआ तो इनकी तारीख मई-जून तक बढ़ सकती है।

गौरतलब है कि 2022 फरवरी और मार्च में प्रदेश में विधानसभा का चुनाव हो सकता हैं।इसी कारण विधान परिषद का चुनाव कराने के लिए आयोग के अधिकारियों को माथापच्ची करनी पड़ रही है।यहां ये जानना जरूरी है कि विधान परिषद का चुनाव साल 2016 में 30 जनवरी को कार्यक्रम जारी हुआ था और 3 मार्च को चुनाव हुए था।सदस्यों ने 7 मार्च को शपथ ली थी। विधान परिषद सदस्य 6 साल के लिए चुने जाते हैं,लिहाजा इनका कार्यकाल 7 मार्च को खत्म हो जाएगा ।फिलहाल विधान परिषद चुनाव को जनवरी में सम्पन्न कराने के लिए फाइल तो बन गई है,लेकिन उस पर अभी कोई मुहर नहीं लगी है।


More news