काशी की ज्ञानवापी मस्जिद के बाद मथुरा की ईदगाह मस्जिद सील को सील करने की उठी मांग, कोर्ट में दिया प्रार्थना पत्र
काशी की ज्ञानवापी मस्जिद के बाद मथुरा की ईदगाह मस्जिद को सील करने की उठी मांग,कोर्ट में दिया प्रार्थना पत्र


17 May 2022 |  44





मथुरा।आध्यात्मिक नगरी काशी की ज्ञानवापी मस्जिद के बाद अब श्रीकृष्ण जन्मभूमि का मामला गर्म हो रहा है। श्रीकृष्ण जन्मभूमि मंदिर के बगल शाही ईदगाह मस्जिद की सुरक्षा बढ़ाए जाने के साथ ही वहां पर आने जाने पर रोक और सुरक्षा अधिकारी को नियुक्त किए जाने की मांग को लेकर वादी महेंद्र प्रताप सिंह ने मथुरा कोर्ट में प्रार्थना पत्र दिया है।

श्रीकृष्ण जन्म भूमि मुक्ति न्यास के अध्यक्ष और कोर्ट में याचिका दाखिल करने वाले वादी महेंद्र प्रताप सिंह ने अदालत में अर्जी लगाई है।उन्होंने कहा कि जिस तरह से ज्ञानवापी मस्जिद का मामला सामने आया है,अब कृष्ण जन्म भूमि की जमीन पर बनी ईदगाह के गर्भस्थल को भी सील किया जाए और डीएम और एसएसपी को आदेश दिया जाए कि वहां पर पुलिसबल तैनात कर साक्ष्य के साथ छेड़छाड़ की संभावना को रोकें।

आपको बता दें कि मथुरा में नारायणी सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष मनीष यादव, अखिल भारत हिंदू महासभा के राष्ट्रीय कोषाध्यक्ष दिनेश शर्मा और श्रीकृष्ण जन्मभूमि मुक्ति न्याय के राष्ट्रीय अध्यक्ष एडवोकेट महेंद्र प्रताप सिंह ने वाराणसी की ज्ञानवापी मस्जिद की तरह श्रीकृष्ण जन्मभूमि और ईदगाह मामले में शाही ईदगाह पर सर्वे के लिए मांग की थी।इस संबंध में अदालत में प्रार्थनापत्र दिया।प्रार्थना पत्र में कहा गया कि शाही ईदगाह परिसर का भी अधिवक्ता कमीशन द्वारा सर्वे किया जाना चाहिए।अदालत ने प्रार्थना पत्र स्वीकार कर एक जुलाई को सुनवाई का निर्णय लिया है।

तीनों लोगों ने प्रतिवादियों पर आरोप लगाया है कि वह ईदगाह परिसर से उन सबूतों को नष्ट कर सकते हैं,जिससे स्पष्ट होता है कि भगवान श्रीकृष्ण का मंदिर तोड़कर ईदगाह तैयार की गई है। इस संबंध में अधिवक्ता कमीशन गठित किया जाना चाहिए।

अदालत पहुंचे मनीष यादव ने बताया कि अदालत ने अधिवक्ता कमीशन संबंधी उनकी मांग के प्रार्थनापत्र पर एक जुलाई की तारीख सुनवाई के लिए निर्धारित की है। एडवोकेट महेंद्र प्रताप सिंह ने बताया कि ईदगाह स्थल ही श्रीकृष्ण जन्मस्थान का गर्भगृह है।कमीशन सर्वे करे ताकि वहां से सबूत नष्ट न किए जा सकें,क्योंकि वहां पर मंदिर के अवशेषों से छेड़छाड़ की जा सकती है।


More news