पानी रिसाव को लेकर चंपत राय की दो टूक,कहा- राम मंदिर गर्भगृह में नहीं टपका है एक भी बूंद पानी
पानी रिसाव को लेकर चंपत राय की दो टूक,कहा- राम मंदिर गर्भगृह में नहीं टपका है एक भी बूंद पानी

26 Jun 2024 |  72





अयोध्या।बारिश के बाद रामलला के भव्य महल में पानी टपकने की चर्चा ने जोर पकड़ लिया है। ये अयोध्या ही नहीं पूरे देश में चर्चा बना हुआ है।चर्चा इस बात की है कि करोड़ों रुपयों की लागत से बना राम मंदिर पहली बारिश नहीं झेल पाया।

बारिश के दौरान राम मंदिर की छत टपकने के मामले में अब राम मंदिर ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय ने कुछ तथ्य जारी किए हैं।चंपत राय का कहना है कि गर्भगृह जहां भगवान रामलला विराजमान हैं,वहां एक भी बूंद पानी छत से नही टपका है और न ही कहीं से पानी गर्भगृह में प्रवेश हुआ है।

चंपत राय का कहना है कि मंदिर और परकोटा परिसर में बरसात के पानी की निकासी का सुनियोजित तरीक़े से उत्तम प्रबंध किया गया है,जिसका कार्य भी प्रगति पर है। मंदिर निर्माण का कार्य पूरा होने के बाद मंदिर एवं परकोटा परिसर में कहीं भी जलभराव की स्थिति नहीं होगी। श्री रामजन्म भूमि परिसर में बरसात के पानी को अंदर ही पूर्ण रूप से रखने के लिए रिचार्ज पिटो का भी निर्माण कराया जा रहा है।

बता दें कि रामनगरी में बुधवार तड़के तीन घंटे तक मूसलाधार बारिश हुई,जिससे एक बार फिर रामपथ धंस गया।इसके बाद रिकाबगंज मार्ग पर बैरियर लगाकर एक लेन पर आवागमन बंद कर मरम्मत का काम शुरू कर दिया गया। इसके पहले शनिवार को रातभर हुई बारिश में रिकाबगंज के आसपास कई जगहों पर रामपथ धंस गया था। यहां गिट्टी और बालू डालकर मरम्मत कराई गई थी। एक बार फिर बारिश होने पर यहीं पर सड़क धंस गई है। आनन-फानन में जेसीबी से रोड की पटाई कराई जा रही है।

More news