प्रधान पति और उसके साथियों ने की पुलिस पर फायरिंग, सिपाहियों ने गड्ढे में छिपकर बचाई जान
प्रधान पति और उसके साथियों ने की पुलिस पर फायरिंग, सिपाहियों ने गड्ढे में छिपकर बचाई जान


10 Sep 2022 |  189



ब्यूरो अनुज प्रताप सिंह

एटा।उत्तर प्रदेश के एटा जिले के सकीट थाना क्षेत्र में शुक्रवार की रात पुलिस पर फायरिंग का मामला सामने आया है।जमीनी विवाद की सूचना पर पीआरवी के सिपाही गांव पहुंचे थे।तभी गांव करमचंदपुर के प्रधान पति और उसके साथियों ने पुलिस टीम पर फायरिंग कर दी। सिपाहियों ने गड्ढे में छिपकर अपनी जान बचाई।पुलिस टीम पर फायरिंग की सूचना मिलते ही थाने की फोर्स मौके पर पहुंची।पुलिस ने मौके से कारतूस के खोखे और शराब की खाली बोतलें बरामद की हैं।

गांव करमचंद्रपुर के रहने वाले विजय सिंह ने प्रधान पति सहित पांच लोगों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई है।उन्होंने बताया कि शुक्रवार को प्रधान पति सुधीर कुमार ने लेखपाल से चकरोड की पैमाईश कराई है। उस समय विजय सिंह और उसके परिवार के लोग घर पर नहीं थे। जब शाम को वे लोग घर आए तो पता चला कि उनके खेत में चकरोड डाला जा रहा है।

पीड़ित ने बुलाई थी पुलिस

विजय सिंह अपने बेटे प्रेमचंद्र और सूबेदार के साथ खेत पर पहुंचे।उन्होंने चकरोड डालने से मना किया। आरोप है कि प्रधान पति और अन्य लोगों ने उन्हें गाली गलौज करते हुए धमकाकर भगा दिया। पीड़ित ने 112 नंबर कॉल कर पुलिस बुला ली। इस पर प्रधान पति सुधीर कुमार और उसके साथियों ने पीड़ित और सिपाहियों पर कई राउंड फायरिंग कर दी। सभी ने गड्ढे में छिपकर जान बचाई।सूचना पर थाने की फोर्स पहुंच गई। तब तक सभी आरोपी मौके से फरार हो गए।

इंस्पेक्टर संजीव कुमार चौधरी ने बताया कि प्रधान पति सुधीर कुमार व अन्य ने पीआरवी 1970 के सिपाहियों पर फायरिंग की गई थी। घटनास्थल से कारतूस के खोखे भी मिले हैं। खाली शराब की बोतलें भी बरामद हुई है। पांच लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। जांच की जा रही है।

More news