लक्ष्मण को शक्ति लगने से राम की सेना में मचा हाहाकार,प्राचीन रामलीला में कलाकारों ने पेश किया रोमांचक दृश्य
लक्ष्मण को शक्ति लगने से राम की सेना में मचा हाहाकार,प्राचीन रामलीला में कलाकारों ने पेश किया रोमांचक दृश्य

23 Oct 2023 |  238



रिपोर्ट-युधिष्ठिर सिंह


सुलतानपुर।बल्दीराय तहसील क्षेत्र के इसौली कस्बे में चल रही ऐतिहासिक रामलीला के आखिरी दिन अंगद रावण संवाद, लक्ष्मण शक्ति और कुम्भकर्ण वध लीला का सुंदर मंचन स्थानीय कलाकारों द्वारा किया गया।

रामलीला में निशाचरों के लगातार मारे जाने पर लंकाधिपति रावण चितित हो जाता है और वह अपने पुत्र इन्द्रजीत मेघनाद को रणभूमि में जाने के लिए कहता है।मेघनाद अपने पिता से आज्ञा लेकर रणभूमि में पहुंचता है और शेषावतार लक्ष्मण से उसका भयंकर युद्ध होता है। मेघनाद ब्रह्मा द्वारा दी गई शक्ति का आह्वान कर उसे प्राप्त करने के बाद शक्ति का प्रहार लक्ष्मण पर करता है,जिससे लक्ष्मण मूर्छित हो समर भूमि में गिर जाते हैं।मेघनाद लक्ष्मण को मृत समझकर उनके शरीर को लंका ले जाना चाहता है,लेकिन वह तमाम कोशिशें करने के बावजूद मूर्छित पड़े लक्ष्मण को हिला भी नहीं पाता है।वह वही पर छोड़ लंका पहुंच जाता है।लक्ष्मण के मृत्यु का समाचार वह रावण को सुनाता है। यह खबर सुनकर लंकावासी खुशियां मनाते है। इधर लक्ष्मण के मूर्छित होने की खबर मिलते ही राम दल में शोक छा जाता है,लेकिन पवन पुत्र हनुमान संजीवनी बूटी लाकर लक्ष्मण का प्राण बचा लेते है।

इस मौके पर जितेंद्र श्रीवास्तव, धर्मेन्द्र यादव,सन्तोष निषाद, प्रशान्त मिश्र, विष्णु कुमार, आशीष मिश्र, डॉ राकेश, आलोक, राजू जोशी,रिंकू, प्रहलाद,संदीप सहित आदि मौजूद रहे।

More news